अलवर में क़ाफ़िले पर हमला हुआ तो टिकैत ने चेताया- सड़क पर चल नहीं पायेंगे बीजेपी नेता!


राकेश टिकैत ने शांति बनाये रखने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि अलवर में हमला बीजेपी का षड़यंत्र था जो बेनकाब हो चुका है।घटना से जुड़े हमलावर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सक्रिय कार्यकर्ता हैं और स्थानीय सांसद बालक नाथ और सतीश पूनिया प्रदेश अध्यक्ष भाजपा के करीबी हैं ।


मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


राजस्थान के अलवर में तातारपुर चौराहे पर किसान नेता राकेश टिकैत के काफ़िले पर आज हमला हुआ।हमले में उनकी कार का शीशा शीशा भी टूट गया। संयुक्त किसान मोर्चा ने इस घटना की कड़ी निंदा की है।

इस घटना में एबीवीपी और बीजेपी से जुड़े नेताओं का नाम सामने आया है।  चार महीने से कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ धरना दे रहे किसानों में इस घटना से नाराज़गी है।

इधर, राकेश टिकैत ने शांति बनाये रखने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि अलवर में हमला बीजेपी का षड़यंत्र था जो बेनकाब हो चुका है।घटना से जुड़े हमलावर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सक्रिय कार्यकर्ता हैं और स्थानीय सांसद बालक नाथ और सतीश पूनिया प्रदेश अध्यक्ष भाजपा के करीबी हैं ।यह षड्यंत्र स्थलभौर हरियाणा में रचा गया है। किसी भी मोर्चे पर घटना के विरोध में कोई एक्शन नहीं लेना है। संयुक्त मोर्चा की बैठक में इस पर चर्चा कर आगे की रणनीति तय की जाएगी हम इस संघी षड्यंत्र से डरने वाले नहीं है और हमारे कार्यक्रम बादस्तूर जारी रहेंगे।

राकेश टिकैत ने बीजेपी को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर संयुक्त मोर्चा के नेताओं के साथ सड़कों पर इस तरह की घटनाएं की गई तो भाजपा के सांसद विधायक भी सड़क पर नहीं चल पाएंगे ।

राकेश टिकैत ने इस घटना की जानकारी देते हुए ख़ुद ट्विटर पर एक वीडियो डाला है-

 

उधर, पुलिस ने इस घटना के संबंध में चार  लोगों की गिरफ्तारी की है और जाँच जारी है।


Related