दाभोलकर हत्याकांड: सनातन संस्था के संजीव पुनालेकर और विक्रम भावे 4 जून तक CBI रिमांड पर

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


सामाजिक कार्यकर्त्ता नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड मामले में गिरफ्तार दो आरोपी सनातन संस्था के वकील संजीव पुनालेकर और उनके सहयोगी विक्रम भावे को आज पुणे सत्र न्यायालय ने 4 जून तक केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की हिरासत में भेज दिया है.

20 अगस्त 2013 को पुणे में दाभोलकर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

मुंबई  से 25 मई को सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किये गये दोनों आरोपियों को सीबीआई अदालत ने 1 जून तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था.


पिछले साल सीबीआई (CBI) द्वारा नरेंद्र दाभोलकर की हत्या मामले में गिरफ्तार आरोपी शरद कलस्कर से पूछताछ में पता चला था कि जून 2018 में शरद मुंबई में वकील संजीव पुनालेकर के दफ़्तर में जाकर मिला था. तब पुनालेकर ने उसे हत्या में इस्तेमाल की गई बंदूक को नष्ट करने को कहा था. उस समय विक्रम भावे भी दफ़्तर में मौजूद था. उसके बाद ही शरद कलस्कर ने ठाणे से नालासोपारा जाते समय खारबाव में पुल से बंदूक के अलग अलग हिस्से कर फेंक दिया था. सीबीआई के मुताबिक पूछताछ में ये भी पता चला है कि नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के पहले शूटर सचिन अंदुरे और शरद कलस्कर ने दस दिन पहले रेकी भी की थी.