ओमिक्रॉन: भारत में अब 64 केस, WHO ने कहा – 77 देशों में फैला वैरिएंट, अकेले वैक्सीन नहीं बचा सकती!

मीडिया विजिल मीडिया विजिल
ख़बर Published On :


भारत में ‘ओमिक्रॉन’ वैरिएंट से संक्रमितों की संख्या में रोज़ इज़ाफा हो रहा है। बुधवार को यह संख्या बढ़कर 64 हो गई। इस समय ओमिक्रॉन के सबसे ज़्यादा मामले महाराष्ट्र में हैं। यह सबसे अधिक प्रभावित राज्यों की लिस्ट में नंबर वन है। जहां अब तक कुल 28 मामले मिल चुके हैं। वहीं, राजस्थान 17 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। गुजरात में 4, कर्नाटक में 3, केरल में 1, आंध्र प्रदेश में 1, दिल्ली में 6, तेलंगाना में 3 और चंडीगढ़ में 1 मामले हैं। इस नए वैरिएंट से बढ़ रहे संक्रमण ने सरकार की भी चिंता बढ़ा दी है। वहीं केंद्र सरकार बूस्टर डोज पर तेज़ी से काम कर रही है ताकि इस खतरनाक वैरिएंट से निपटा जा सके, लेकिन बता दें कि खास बात ये है कि ओमिक्रॉन से संक्रमित ज्यादातर लोग वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं।

हैदराबाद में दो नए संक्रमितों की पुष्टि..

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में दो नए संक्रमितों की पुष्टि हुई है। जिसके बाद ही देश में ओमिक्रॉन संक्रमितों की कुल संख्या 64 हुई है। ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच नोएडा में विदेश से आए 5 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। यह लोग ब्रिटेन से हाल ही में गौतमबुद्ध नगर आए थे। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार इसकी पुष्टि गौतमबुद्ध नगर के सीएमओ डॉ. सुनील शर्मा ने की है। इनके सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं, जिससे ओमिक्रॉन संक्रमण की जांच की जा सके। बता दें कि विदेश से करीब 4729 यात्री अब तक नोएडा वापस आए हैं। इस सभी में से करीब 2600 यात्रियों को ट्रैक किया जा चुका है, जबकि 1100 ट्रैवलर हाई रिस्क कंट्री से आए हैं।

77 देशों में फैला ओमिक्रॉन: WHO

WHO के प्रमुख टेड्रोस एदोनाम गेब्रेसस ने बड़ी जानकारी देते हुए बताया कि 77 देशों में अब तक ओमिक्रॉन की आधिकारिक रूप से पुष्टि हो चुकी है। गेब्रेसस ने यह भी कहा कि ओमिक्रॉन बेहद अप्रत्याशित गति से पैर पसार रहा है। WHO ने कहा कि वास्तविकता यह है कि ओमिक्रॉन 77 से भी ज़्यादा देशों में है। भले ही इसका अभी तक पता नहीं चला हो। ओमिक्रॉन उस दर से फैल रहा है, जिसे हमने पिछले किसी वैरिएंट के साथ नहीं देखा। अकेले वैक्सीन से कोई देश इस संकट से बाहर नहीं निकल पाएगा। इसका प्रसार शुरुआत से अब तक अपनाए गए सभी उपायों से ही रोका जा सकता है। इसे बहुत जल्द गंभीरता से लागू करना चाहिए। देश में कुल कोरोना संक्रमितों कि बात करें, तो बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 6,984 नए मामले सामने आए हैं और 247 लोगों की मौत हो गई है।